clavam 625 tablet uses in hindi – क्लैवम 625 टेबलेट का 6 प्रमुख लाभ, उपयोग, दुष्प्रभाव, सावधानियां

Clavam 625 tablet uses in hindiClavam 625 Tablet Uses In Hindi की जानकारी…

नमस्कार दोस्तो आज की इस आर्टिकल में हम जानेंगे एक बहुत ही प्रभावशाली Antibiotic दवा के बारे में, जिसका नाम है Clavam 625 tablet. इस लेख में हम इस टेबलेट के उपयोग , लाभ , साइड इफेक्ट्स और सावधानियों बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे, ताकि आप उसको सही तरीके से इस्तेमाल कर सके। तो दोस्तो यदि आप भी जानना चाहते की क्लबम 625 टेबलेट का उपयोग किस तरह से किया जा सकता है और इसके क्या क्या फायदे हो सकते है तो इस पोस्ट को जरूर पूरा पढ़िए, क्यों की यह एक एंटीबायोटिक टेबलेट है जिसके बारे में सही जानकारी होना आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है।

क्लबम 625 टेबलेट क्या है – What Is Clavam 625 ?

clavam 625 टेबलेट एक antibiotic and antibacterial दवाई है, जिसका कम्पोजीशन Amoxicillin और clavulanate एसिड। आमतौर पर अमोक्सीसीलीन बैक्टीरिया के विकास और प्रगति को रोकने में मदद करता है, जबकि इसमें मजूद क्लावुलेनिक एसिड अमोक्सिसिलिन के एक्टिविटीज को और ज्यादा मजबूती देने में मदद करता है, जिसका प्रयोग कोई प्रकार की बिमारिओ में बड़ी सफलता के साथ किया जाता है। बिसेष करके यह टेबलेट को रेस्पिरेटरी इंफेक्शन, जेनिटल ट्रैक्ट इंफेक्शन (जननांग पथ), ENT, skin , सॉफ्ट टिश्यू इंफेक्शन, सर्जिकल इंफेक्शन और गोनोरिया जैसे बिमारिओ के लिए बेहद कार्योकारी माना जाता है। Abbot healthcare pvt दवारा निर्मित एक बेहतरीन एंटीबायोटिक टेबलेट है यह जो सिर्फ हमारे भारत में ही नहीं बल्कि भारत के अलाबा बिभिन्न देशो में भी यह टेबलेट उपलब्ध है।

अब आइये जानते है की खास करके किन किन बिमारिओ में clavam 625 tablet का उपयोग किया जाता है

clavam 625 टैबलेट का प्रयोग विभिन्न प्रकार की बैक्टीरियल इंफेक्शन्स के इलाज के लिए किया जाता है। बिसेष रूप से यह दवा उन बिमारिओ में कार्योकारी को सकती है जो हम अब एक एक करके डिसकस करनेवाले है।

1. साइनोसाइटिस (sinusitis) – अगर आपको साइनोसाइटिस की समस्या है यानि की अगर आपको बंद नाक के साथ सर्दी, सिरदर्द, आंखों के आसपास सूजन, छींक आना जैसे लक्षण अनुभब करते है, तो ऐसे में क्लबम 625 टेबलेट का इस्तेमाल किया जा सकता है।

2. tonsillitis के समस्या के लिए क्लबम 625 टेबलेट एक सबसे अच्छा एंटीबायोटिक हो सकता है
जी हाँ दोस्तो टॉंसिलिटिस के लिए clavam 625 tablet सबसे अच्छा और safe माना जाता है। आमतौर पर ठण्ड लगने के कारण या फिर गले में स्ट्रेप्टोकॉकस hemolyticus जैसी बैक्टीरियल इंफेक्शन के tonsilitis की समस्या हो सकता है। और ऐसे स्तिति में तेज भुकार लगना, गले में दर्द , खाना निगलने में कठिनाई और गले के दोनों ओर टॉन्सिल का बढ़ना इस तरह का लक्षण हमें नजर आता है। तो दोस्तो टॉंसिलिटिस के उन तमाम लक्षणो से बचने के लिए clavam 625 टेबलेट का उपयोग काफी बेनेफिशियल हो सकता है।

3.श्वसन तंत्र का संक्रमण – हमारी ऊपरी श्वसन तंत्र से जुडी बीमारी जैसे ब्रोंकाइटिस, अस्थमा, और बिसेष करके खाँसी (cough) का इलाज के लिए यह एंटीबायोटिक बेहद लाभकारी हो सकता है।

4. कान के अंदर होनेवाली संक्रमण के लिए क्लबम 625 टेबलेट का प्रयोग एक सही बिकल्प माना जाता है। दोस्तो कभी कभी हमें कान साफ़ करते समय कान के अंदर यानि की हमारी मध्य कान में छूट लग जाता है जिससे कान के अंदर इन्फेक्शन या सूजन होने लगता है। इसके अलाबा अन्नो कोई कारण हो सकता है जिससे हमारी मध्य कान में इंफेक्शन हो सकता है जिसे मेडिकल भासा में ओटिटिस मीडिया कहते है। तो दोस्तो किसी कारण से अगर हमारे कान में इंफेक्शन हो जाए तो clavam 625 टेबलेट का सेबन किया जा सकता है।

5. दांतों के संक्रमण के लिए क्लबम 625 का इस्तेमाल और एक राम बाण इलाज हो सकता है – जी हाँ दोस्तो जब किसी बैक्टीरियल संक्रमण के कारण दातो में कोई समस्या हो जाती है तो इस संक्रमण को दूर करने के लिए clavam 625 tablet एक सही एंटीबायोटिक हो सकता है। अगर आपके दात दर्द के साथ दातो के आस पास मांसपेशिया में सूजन है या खून भी निकल रहा है तो ऐसे में clavam 625 tablet के साथ कैल्शियम टेबलेट लेने से दांतो में होनेवाली समस्या से राहत मिल सकता है।

6. clavam 625 टेबलेट त्वचा में होनेवाले संक्रमण के इलाज के लिए काफी लाभ दायक होता है – जी हाँ दोस्तो, हमारी में कोई प्रकार के बैक्टीरियल इंफेक्शन होता है और इनमेसे जो सबसे कॉमन यह impetigo, folliculitis, cellulitis, boils जेसे ओर भी बहुत है। इस तरह के संक्रमण के कारण स्किन में होनेवाले सूजन, लालिमा और दर्द जैसे लक्षणों को दूर करने में यह दवा काफी मददगार है।

**Clavam 625 टेबलेट की मात्रा – Clavam 625 Tablet Dosage

मात्रा – एडल्ट लोगों के लिए 500 mg amoxicillin + 125 clavulanic acid 7 से 10 दिनों तक 8 घंटे के अंतराल पर दिया जा सकता है। हल्के संक्रमण के लिए 250 mg amoxicillin + 125 clavulanic acid कुल मात्रा 375 मिलीग्राम 8 घंटे के अंतराल में 7 से 10 दिन तक दिया जा सकता है।

दुष्प्रभाव – आमतौर पर दूसरे एंटीबायोटिक के मुकाबले क्लबम 625 टेबलेट को सबसे safe माना जाता है। कुछ लोगों में इसका दुष्प्रभाव दिखाई देता है और यह इस प्रकार की है :-
एलर्जिक रिएक्शन – जैसे की स्किन पर rashes आना, खुजली, उत्तेजना आदि।
पेट में तकलीफ (stomach discomfort) – इस टेबलेट को लेने से bloating, पेट दर्द, indigestion, दस्त, म्यूकस अदि समस्या हो सकती है।
इसके अलाबा अन्य छोटे छोटे समस्या हो सकते है जैसे की थकान लगना, उलटी, सिर चकराना आदि।

सावधानियाँ – दोस्तो इस टेबलेट को लेने से पहले आपको अपनी डॉक्टर से जरूर सलह लेनी चाहिए। ध्यान रखिये इस इस बात की इस टेबलेट को कभी भी खली पेट नहीं लेना चाहिए। खाना खाने के बाद ही इस टेबलेट का सेबन करना चाहिए। दूसरा जो है, गर्भावस्था के समय में या स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के मामले में आपको अपनी डॉक्टर से जरूर सुझाब लेना चाहिए। इसके अलाबा अन्य दबाओ के साथ इस टेबलेट को लेने से पहले अपनी डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

**क्लैवम 625 टेबलेट से जुड़ी पूछे जानेवाले सवाल।।।।

1. क्लैवम 625 टेबलेट का क्या क्या काम है?

clavam 625 tablet काफी हद तक एक सेफ एंटीबायोटिक दवा है, जिसका उपयोग कोई प्रकार की इन्फेक्शन के इलाज के लिए किया जाता है। जैसे की उप्पर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन, डेंटल इंफेक्शन, ओटिटिस मीडिया, रीनल इन्फेक्शन और त्वच्चा में होनेवाले संक्रमणों के इलाज के लिए इस टेबलेट को प्रेफर किया जाता है।

2. क्या में बुखार के दौरान clavam 625 ले सकता हूँ ?

जी हाँ, यदि बुखार किसी भी प्रकार के बैक्टेरियल संक्रमण के कारण होता है, तो आप बुखार के दौरान clavam 625 टैबलेट एंटीबायोटिक के रूप में ले सकते है।

3. मुझे clavam 625 गोली कब लेनी चाहिए ?

clavam 625 का गोली आमतौर पर खाना खाने के बाद ही लेनी चाहिए।

निचे दिए पोस्ट भी आप पढ़ सकते है

Leave a Comment