roop mantra cream ke fayde – रूप मंत्रा क्रीम के फायदे और नुकसान

roop mantra cream ke fayde

Roop Mantra Cream Ke Fayde :

दोस्तो चहरे को सुन्दर बनाना कौन नहीं पसंद करता है। हर कोई चाहते है की खुदको दिखने में खूबसूरत लगे। और इसीलिए हम आपको एक ऐसी बढ़िया फेस क्रीम के बारे में जानकारी देने जा रहे है, जिसको इस्तेमाल करके आप अपनी चेहरे की खूबसूरती को बढ़ा सकते है। जी हाँ दोस्तो आज हम आपको बताने जा रहे है रूप मंत्रा क्रीम के फायदे के बारे में . साथ ही, यह भी हम जानने वाले है की इस क्रीम का उपयोग कैसे किया जा सकता है।

दोस्तो चेहरे में निखार और चमक लाने के लिए हम नजानी क्या-क्या ब्यूटी प्रोडक्ट्स का व्यवहार करते है। लेकिन देखा जाय तो इससे कुछ ख़ास फर्क नहीं पड़ता, चेहरे जैसे की तैसी बनी रहती है। कई बार उन बाजारू प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल सेचेहरे की स्तिति ओर ज्यादा बिगड़ जाती है। इसीलिए कोई भी ब्यूटी प्रोडक्ट्स यूज़ करने से पहले ख़ास कर उसकी कंपनी और इंग्रेडिएंट्स की जांच करना आबश्यक होता है।

रूप मंत्रा क्रीम (Roop Mantra Face cream) ख़ास तौर पर एक आयुर्वेदिक मेडिसिनल क्रीम है। इस क्रीम के निर्माता (Manufacturer) का नाम है : इंडो हर्बल प्रोडक्ट्सजो की बहुत ही अच्छी कंपनी है। इसके अलाबा रूप मंत्रा क्रीम में जिन जिन सामग्रियों का मिश्रण किया गया है यह सभी तत्व त्वचा को कोमल और सौंदर्यो प्रदान करने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

अब आइये जानते है रूप मंत्रा क्रीम में ऐसी कोसी बिशेष उपादान मिलाई गई है जिनके इस्तेमाल से आपकी त्वचा ओर खास बन जाती है। रूप मंत्र क्रीम के फायदों  को बेहतर बनाने के लिए निचे उल्लिखित उन तत्व को शामिल की गई है जो अब हम आपको बताने जा रहे है।

roop mantra cream ke fayde

रूप मंत्रा के उपादान – Roop Mantra Ingredients In Hindi

एलोवेरा – दोस्तो, एलोवेरा के बारे में लगभग सभी लोग अच्छे से जानते है। एलोवेरा प्राकृतिक रूप से एंटी-ऑक्सीडैंट का खजाना है, जो स्किन को सूरज से निकलने वाले हानिकारक रोशनी की प्रभाबो से बचता है। और साथ ही त्वचा को नरम और हाइड्रेट रखने में भी मदद करता है।

हल्दी – त्वचा को गोरा और सुन्दर बनाने के लिए हल्दी का उपयोग प्राचीन काल से किया जा रहा है। हल्दी में एंटी-ऑक्सीडैंट और एंटी-इन्फ्लैमटॉरी औषधिओ गुण पाए जाते है जो त्वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के साथ-साथ स्किन संमंधी सारी समस्याओ को दूर करता है। हल्दी के इस्तेमाल से स्किन में होनेवाली रशेस, काला दाग-धब्बे, झुर्रिया और मुँहासे जैसी सभी मसला का हाल होता है।

तुलसी – दोस्तो, तुलसी के पत्ते भी रूप मंत्रा क्रीम में शामिल है। तुलसी पत्ते के रस स्किन के फायदेमंद होता है। चहरे की त्वचा को साफ़ और मुलायम बनाने के लिए तुलसी के पत्ते यानी बसील बहुत ही अच्छा काम करता है। इसके अलाबा शरीर की अन्य बिमारिओं के लिए भी तुलसी की पत्तिया आयुर्वेदिक उपचारो में से एक है।

संदन – क्या आप जानते है चंदन का लेप अगर त्वचा पर लगाये जाए तो येह त्वचा के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है ? जी हाँ दोस्तो, त्वचा को आकर्षक बनाने के लिए जितने सारे नेचुरल इंग्रेडिएंट्स है, चंदन उनमे से एक सबसे अच्छी उपादान के रूप में जाना जाता है। चंदन के उपयोग से त्वचा जबा-जबा और काफी चमकदार बनता है।

नीम – येह एक और बहुत ही बढ़िया उपादान है। दोस्तो, आप सायद जानते होंगे की नीम की पत्तिया स्किन में होनेवाली बिमारिओ के लिए आयुर्वेदिक औषधिओ के तौर पर इसे कोई तरीके इस्तेमाल किया जाता है। इसीलिए नीम की पत्तियों में मजूद उन तमाम फायदें को देखते हुए रूप मंत्रा क्रीम में भी इसे भी जुड़ा गया है।

उन पांच उत्कृष्ट सामग्री के अलाबा अन्य उपादान भी शामिल है, जैसे की बादाम, सेब, नीम, मुलेठी, खीरा और निम्बू जैसी महत्वपूर्ण फोलो को निचुड़कर रूप मंत्रा क्रीम तैयार किया गया है जो येह साबित करता है की रूप मंत्र क्रीम आपके लिए कितना बेनेफिशियल हो सकती है ।

roop mantra cream ke fayde

रूप मंत्रा क्रीम के फ़ायदे और नुकसान

इस क्रीम को लगाने की फायदे की बात करें तो इसे लगाने के 2-3 हफ्ते बाद ही इसका रिजल्ट दिखने को मिलता है। कुछ लोगों के अनुभव और हमारे अपने अनुभव के अनुसार रूप मंत्रा क्रीम लगाने से मुंह साफ़ दीखता है। जायदातर टिनेजर लड़का-लड़किओं के मुंह में लाल दाने, ब्लैक स्पोर्ट और पिम्पल्स निकलने की समस्याएं होती है। अगर ऐसी स्तिति में रूप मंत्रा आयुर्वेदिक उत्पाद का इस्तेमाल किया जाए तो स्किन गोरा होने के साथ-साथ त्वचा से जुडी उन सारी बीमारिया दूर हो सकती है।

हल्दी, चंदन, नीम और निम्बू उन चारो का मिश्रण इस क्रीम की खासियत को ओर बढ़ा देता है। आमतौर पर देखा जाए तो ज्यादा तर फेस क्रीम में ऐसी इंग्रेडिएंट्स बहुत ही कम दिखने को मिलता है जिसका साइड इफेक्ट्स लगभग न की बराबर होती है। लेकिन हां, कुछ-कुछ मामलों में साइड इफेक्ट का खतरा भी रहता है।रूप मंत्रा क्रीम के दुष्प्रभाबो के बारे में जानने के लिए कृपया इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े।

रूप मंत्रा क्रीम के नुकसान यानी साइड इफेक्ट्स – Roop Mantra Cream Side Effects In Hindi

नॉर्मली रूप मंत्रा के कोई भी नुकसान नहीं होता है। क्यों की यह क्रीम सम्पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक फार्मूला से बनी है। लेकिन जैसे की हमने आपको कहां की कुछ मामलों में इसके उपयोग से नुकसान का सम्भाबना रहता है, येह वह है की किसी किसी का स्किन एलर्जिक होता है और ऐसे में सिर्फ रूप मंत्रा क्रीम नहीं बल्कि कोई भी क्रीम स्किन पर सूट नहीं करता है। एलर्जिक रिएक्शन वाली स्किन में कोई भी क्रीम लगाने से स्किन में जलन,खुजली, लालिमा यानी लाल रशेस भी बढ़ जाती है। अगर आपको भी ऐसा होता है तो ऐसी परिस्थिति में रूप मंत्रा क्रीम न लगाये।

रूप मंत्रा क्रीम कब लगाना चाहिए -Roop Mantra Cream Uses In Hindi

रूप मंत्र क्रीम को अगर आप सही तरीके से यूज़ करेंगे तो इसका रिजल्ट आपको बहुत ही बढ़िया मिलेगा। इस क्रीम को लगाने का नियम इस प्रकार है :- सबसे पहले ठण्ड पानी से मुंह को अच्छे से वाश करे या roop mantra face wash से फेस को अच्छे से वाश करें। इसके बाद आप roop mantra face cream का इस्तेमाल करें। इस क्रीम को आप प्रेतेह एक बार लगाए। इस फेस क्रीम को लगाने के बाद ज्यादा धुप या डस्ट वाली एरिया में न घूमे। इसके लिए बेहतर होगा की आप इसे रात लगाए।

टिप्स – रूप मंत्रा फेस क्रीम को इस्तेमाल करने के साथ-साथ आप अगर रूप मंत्र फेस वाश (Roop Mantra Face Wash Ke Fayde) का भी यूज़ करते है तो आपको इस क्रीम से ओर बेहतर परिणाम मिल सकता है।

Read More Article

Leave a Comment