V Wash Hygiene Use In Hindi – वी वॉश के फायदे, लाभ, उपयोग, Price

v wash hygiene use in hindi

V Wash Hygiene Use In Hindi

कैसे हो दोस्तो, आज की इस लेखन में हम आपको v wash हाइजीन या वी-वाश प्लस से जुडी कुछ तमाम जानकारिया प्रदान करने वाले है। वी वाश को लेकर अधिकांश महिलाएं येह जानना चाहती है की v wash kaise use kare, इसके फायदे यानी लाभ क्या है साथ ही किस उम्र से इसका इस्तेमाल करना चाहिए और इसके इस्तेमाल से क्या साइड-इफेक्ट्स हो सकता है। तो आइये उन सभी बिषय के बार्रे में बिस्तार से जानने की कोशिश करते है।

दोस्तो आजके समय में हर महिलाये अपनी सुन्दर्यै को बढ़ाने के लिए अलग अलग प्रकार के प्रोडक्ट का यूज़ करती है, चाहे वह त्वचा हो या बाल। लेकिन इसके चलते अक्सर महिलाएं अपनी गुप्त अंग का खयाल रखना भूल जाती है या इस बिषय को टाल देती है। जिसके नतीजा गुप्त अंग में बैक्टीरियल इन्फेक्शन या ऐसे कोई मुसीबतो का सामना करना पड़ता है,जिसके बारे में हम आपको आगे चलके बतानेवाले है।

v wash uses in hindi की जानकारी प्राप्त करने से पहले येह जानलेना जरुरी है की अपनी गुप्त-अंग को स्वस्थ न रखने से किन-किन मुसीबतों का सामना करना पढ़ सकता है। प्राइवेट पार्ट को स्वस्थ न रखने से बैक्टीरियल इन्फेक्शन (vaginal infection) का खतरा बढ़ जाता है। कोई युबती या महिलाओं को सफ़ेद स्रब की शिकायत होती है। येह ऐसी एक समस्या है जिसके बारे में आप खुलकर बोल नहीं पाते और लगातर इसी तरह चलने से शरीर में कमजोरी, दुबला-पतला और असस्थ महसूस होने लगता है। दोस्तो सफ़ेद स्रब की बीमारी गुप्त अंग को साफ़ न रखने की बजह से ही होता है। इसके अलाबा

वेजाइनल कैंडिडिआसिस (vaginal candidiasis) एक प्रकार की बैक्टीरियल संक्रमण है जो आमतौर पे प्राइवेट प्लेस को साफ़-सफाई न रखने के कारण होता है। जिसके चलते गुप्त अंग में जलन, खुजली, स्रब निकलना जैसी कोई समस्या हो सकती है। यह बीमारी दवा लेने से ठीक हो जाती है, लेकिन इसके साथ साथ साफ-सफाई रखना भी बहुत जरूरी होता है।

उन परिस्तिति में आपको अपनी गुप्त-अंग का बिशेष रूप से ध्यान रखना सबसे ज्यादा जरुरी है, जैसे की : –

  • टॉयलेट जाने के बाद
  • संमध बनाने के बाद
  • मासिक धर्म के बाद और
  • प्रेगनेंसी के दौरान

* ध्यान रखिये इस चीज का गर्वभस्था के दौरान वी वाश का उपयोग नहीं करना चाहिए।

वी वाश क्या है – What is V Wash ?

दोस्तो वी-वाश एक ख़ास किश्म का लिक्विड साबुन है, जिसे खास कर वेजाइनल स्वास्थ को नजर में रखते हुए इस प्रोडक्ट को तैयार किया गया है। वी वाश में लैक्टिक-एसिड मजूद होता है जो किसी भी बैक्टीरियल संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। इसके अलाबा वी वाश का जो ph वैल्यू (3.5) है, येह भी बिलकुल सही है जो वेजाइनल ph वैल्यू(3.8 – 5.0) के साथ एडजस्ट हो जाता है जो वेजाइना को ड्राईनेस, जलन और खुजली की परिशानी से भी बचाए रखते है।

वी वॉश हाइजीन – V Wash Hygiene Use In Hindi

V Wash Hygiene का इस्तेमाल करना क्यों जरुरी है :- दोस्तो जब आप किसी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते है तो ये भी ध्यान रखना चाहिए की प्रोडट्स का ph वैल्यू के साथ आपकी स्किन का ph वैल्यू मैच हो रहा है या नहीं। ph (potential of hydrogen) वैल्यू एक माप है, जिसके जरिये येह पता लगाया जाता है की येह कितना एसिडिक है। बॉडी का हर एक हिस्से का ph वैल्यू अलग अलग होता है, और हर प्रोडक्ट का ph वैल्यू भी डिफरेंट होता है। जैसे की अगर आप ऐसी ज्यागा पर साबुन का इतेमाल करते है तो आपकी प्राइवेट पार्ट का ph वैल्यू और भी (High Aidic) बढ़ सकता है, जिससे प्राइवेट एरिया की त्वचा ड्राई होने के साथ साथ खुजली, इर्रिटेशन जैसी समस्या सकती है।

वी वॉश के फायदे – v wash benefits in hindi

वी वॉश के फायदे येह है की इसके इस्तेमाल से आप अपनी प्रिवेट अंग को साफ़ रख सकते है। यह एक ऐसा अंग है जिसे साफ़ रखने के बारे में हर युबती या महिला बहुत कम ही सोचती है। और इस अंग को साफ़ न रखने से भविष्य में बहुत बड़ी बीमारी भी हो सकती है। इसीलिए आप अगर गुप्त अंग को साफ़ करने के लिए वी वाश का इस्तेमाल करते है तो किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन की चान्सेस लगभग ना की बराबर रहती है। साथ ही साथ सूखापन, गुप्त स्थान पर ऐलर्जी, जलन, सफ़ेद स्राब और दुर्गंद आने की परिशानी भी नहीं होती है।

वी वाश कैसे यूज़ करें – v wash uses in hindi

इसीलिए अपनी गुप्त क्षेत्र में कभी भी किसी साबुन या शैम्पू का उपयोग न करें। इसके बजाय आप वी-वाश या वी-वाश प्लस का यूज़ कर सकते है। येह प्रोडक्ट ph स्तर को ठीक रखने में मदद करता है। साथ ही खुजली, इर्रिटेशन और बैक्टीरियल इन्फेक्शन से भी राहत दिलाती है।

१५ साल की उम्र से कोई भी युबती वी-वाश यूज़ कर सकती है। ध्यान रखे इसे उपयोग करते समय आप इसे अंदर न डालें। आमतौर पर वी-वाश का ph वैल्यू 3.5 होता है, इसीलिए रोजाना एक बार ही इसे इस्तेमाल करने से पुरे 24 घंटे तक खुजलाना, उत्तेजना और बैक्टीरिया फ्री रह सकते है।

अब यह जानिए, वी-वाश का इस्तेमाल कैसे करें – v wash use in hindi

नहाने के समय आप इसका इस्तेमाल कर सकते है। ज्यादा से ज्यादा 2.5 ml अपनी हाथो में डालकर पानी के साथ मिला लीजिये। और जिस तरह आप फेस वाश करते है ठीक उसी तरह बहार के हिस्से अच्छे से वाश करें। वैसी ही आप रोज वी-वाश का उपयोग कर सकते है या हफ्ते में 3 दिन इसका इतेमाल कर सकते है। अगर आपकी गुप्त अंग में कोई समस्या है, जैसे की खुजली, जलन या बैक्टीरियल इंफेक्शन है तो ऐसे में आप इसे रोज इस्तेमाल करें, अन्यथा आप इसे हफ्ते में 3 दिन यूज़ करें।

वी वॉश का कीमत क्या है ? v wash price

वी वॉश का कीमत 180 /- रुपये में आपको किसी भी मेडिकल शॉप या कॉस्मेटिक्स शॉप में आसानी से मिल जाएगी।

वी वॉश साइड इफेक्ट्स – v wash side effects in hindi

वी वॉश का इस्तेमाल से साइड इफेक्ट्स हो सकता है। अगर यह आपकी त्वचा को सूट नहीं करता है तो इससे रूखापन, खुजालना या जलन महसूस हो सकती है। यदि आप वी वॉश का इस्तेमाल करने के बाद इस तरह का किसी भी लक्षण महसूस करते है तो इसे दुबारा उसे न करें।

येह भी पढ़े

 

Leave a Comment